Published On: रवि, मई 20th, 2018

छत्तीसगढ़: नक्सली हमले में 7 जवान शहीद

Share This
Tags

naxal-attack-3_1526802725दंतेवाड़ा । नक्सलियों ने कोंटा इलाके में मुख्यमंत्री रमन सिंह की सभा से 2 दिन पहले सर्चिंग पर निकले छत्तीसगढ़ पुलिस के जवानों पर हमला किया। रविवार को नक्सलियों के आईईडी ब्लास्ट में पुलिस जीप के परखच्चे उड़ गए। हमले में कुल 7 जवान शहीद हुए हैं। इनमें से दो ने इलाज के दौरान दम तोड़ा। पुलिस के मुताबिक, नक्सलियों ने ब्लास्ट के बाद जवानों पर फायरिंग की और उनके हथियार लूटकर ले गए। रोड पर धमाके के लिए करीब 50 किलो विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया।

हमले के बाद नक्सलियों ने लूटे जवानों के हथियार-  दंतेवाड़ा के एडिशनल एसपी जीएन बघेल ने हमले की पुष्टि की। उन्होंने बताया कि सर्चिंग के लिए निकली जीप में 7 जवान सवार थे। नक्सलियों ने ब्लास्ट करने के बाद जवानों पर फायरिंग भी की। इतना ही नहीं वे जवानों की दो एके 47, दो एसएलआर, दो इंसास राइफल और दो ग्रेनेड लूटकर ले गए। डीआईजी एंटी नक्सल ऑपरेशन, सुरेंद्र राज पी ने बताया कि हमले के बाद पुलिस और सीआरपीएफ के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। नक्सलियों की धरपकड़ के लिए अभियान चलाया जा रहा है। ब्लास्ट में करीब 50 किलोग्राम आईईडी के इस्तेमाल की बात सामने आई है।

छत्तीसगढ़ पुलिस के 6 जवान शहीद हुए – शहीद जवानों में हेड कॉन्स्टेबल रामकुमार यादव, कॉन्स्टेबल टीकेश्वर ध्रुव, कॉन्स्टेबल राजेश सिंह, कॉन्स्टेबल वरिन्द्र नाथ, कॉन्स्टेबल सालीगराम और कॉन्स्टेबल विक्रम यादव, कॉन्स्टेबल अर्जुन राजवर शामिल हैं।

मुख्यमंत्री रमन सिंह की सभा से पहले हमला – 22 मई को विकास यात्रा के तहत मुख्यमंत्री रमन सिंह कोंटा विधानसभा के दोरनापाल में आम सभा करेंगे। जवान इसी के मद्देनजर सुरक्षा इंतजामों का जायजा लेने निलके थे। तभी नक्सलियों ने घात लगाकर चाेलनार इलाके में एक पुल के पास विस्फोट किया। रमन सिंह ने घटना पर दुख जताते हुए शहीदों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की। उन्होंने कहा कि यह हमला विकास का विरोध है। नक्सलियों को मुंहतोड़ जवाब मिलेगा।