Published On: शनि, मई 6th, 2017

अमेरिका में भारतीय कपल की गोली मारकर हत्या

Share This
Tags
swat-new_1494052856वॉशिंगटन। अमेरिका में एक भारतीय कपल की गोली मारकर हत्या कर दी गई। सैन जोस मे सिलिकॉन वैली में काम करने वाले नरेन प्रभु और उनकी पत्नी की घर में ही हत्या कर दी गई। पुलिस के मुताबिक, बदला लेने की नीयत से मिर्जा टाटलिक नाम के शख्स ने इस वारदात को अंजाम दिया। मिर्जा को मुठभेड़ के दौरान पुलिस ने मार गिराया।
 CBC सैन फ्रैंसिस्को की रिपोर्ट के मुताबिक, “सैन जोस पुलिस चीफ एडी ग्रेशिया ने कहा कि मिर्जा का प्रभु की बेटी के साथ अफेयर चल रहा था। वारदात के वक्त प्रभु की बेटी घर पर नहीं थी, वो दूसरी जगह पर रहती है। मिर्जा और प्रभु की बेटी का अफेयर पिछले साल खत्म हो गया था। संदिग्ध की डोमेस्टिक वॉयलेंस की पुरानी हिस्ट्री है। इस वारदात की जानकारी प्रभु के 20 साल के बेटे ने दी। बता दें कि नरेन प्रभु सिलिकॉन वैली में टेक एग्जीक्यूटिव थे।जब ऑफिसर्स लॉरा वैली लेन स्थित प्रभु के घर पहुंचे तो बाहर उनकी बॉडी पड़ी थी। उनके शरीर में एक गोली मारी गई थी। बेटे ने अफसरों को बताया कि उसकी मां, 13 साल का भाई और आरोपी घर में ही है। इसके बाद SWAT टीम को बुलाया गया। जब ऑफिसर आरोपी को पकड़ने की कोशिश कर रहे थे, तभी उसने 13 साल के बच्चे को छोड़ दिया। पुलिस चीफ ने कहा, “आरोपी को सरेंडर करने को कहा गया, लेकिन उसने इससे इनकार कर दिया। पुलिस के साथ मुठभेड़ में वो मारा गया। जब टीम कमरे में पहुंची तो वहां पति-पत्नी और संदिग्ध की बॉडी पड़ी थी। हम एक दिमागी रूप से बीमार शख्स के सामने खड़े थे। उसने सोशल मीडिया पर एक लाइन लिखी थी- उन पर रहम मत करो, जिन्होंने तुम्हें सबसे ज्यादा प्यार किया। पुलिस चीफ ने बताया, “मिर्जा ने 13 साल के बच्चे के मोबाइल का इस्तेमाल अपनी पुरानी गर्लफ्रेंड को कॉल करने के लिए किया। उसने इस बच्चे को शील्ड की तरह इस्तेमाल किया। उसने सरेंडर करने से इनकार कर दिया और पुलिस ऑफिसर्स की तरफ हैंडगन दिखाई। अपने साथी अफसरों और विक्टिम्स की जान बचाने के लिए एक ऑफिसर ने उस पर गोली चलाई, जो आरोपी को लगी। उसके पास मौका था। उसने किसी को कोई मौका नहीं दिया। उसने इस फैमिली को मौका नहीं दिया, पुलिस ऑफिसर्स को कोई मौका नहीं दिया। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, मिर्जा को कोई काम नहीं मिल रहा था। वो अक्सर बिना शर्ट के घूमता था और परेशान रहता था।